Delhi Riots, Burning, Violence, Delhi CAA Clashes 2020 Latest News in Hindi: दिल्ली हिंसा पर BJP सांसद गौतम गंभीर का ब्यान

Delhi Maujpur-Babarpur-Jafrabad Violence News in Hindi: दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर में हुई हिंसा में अब तक एक पुलिस कॉन्सटेबल समेत 7 लोगों की मौत हो चुकी है।

Delhi-Riots,-Violence-CAA Clashes-Latest-Hindi-News
Delhi-Riots,-Violence-CAA Clashes-Latest-Hindi-News

Delhi Maujpur-Babarpur-Jafrabad Burning News in Hindi

Table of Contents

Delhi Maujpur-Babarpur-Jafrabad Burning News in Hindi: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर सोमवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली में लगातार दूसरे दिन हिंसा का माहोल देख गया। इसमें एक कॉन्सटेबल समेत 7 लोगों की जान चली गई। दोनों पक्षों के बीच हिंसा रोकने में मौजपुर के लोगों ने अहम भूमिका निभाई।

यहां रहने वालों ने दोनों समुदाय के प्रदर्शनकारियों को समझा बुझा कर हिंसा बढ़ने से रोका। इस बीच एक व्यक्ति जब अपना खोया हुआ बैग ढूंढने के लिए प्रदर्शन वाले इलाके में पहुंचा तो उसका सामना लाठी-डंडे लिए लोगों से हो गया। लोगों ने पूछा- हिंदू भाई हो? इस पर शख्स ने हां में सिर हिलाया और प्रदर्शनकारियों ने उसे जाने दिया।

दिल्ली कमिश्नर का ब्यान-हमारी इज्जत दाव पर है

■ ट्रंप के दौरे से पहले बोले दिल्ली कमिश्नर:

हमारी इज्जत दांव पर है, शांति बनाए रखें

Delhi Commissioner

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे को मद्देनजर रखते हुए दिल्ली पुलिस के कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) सतीश गोलचा स्थिति नियंत्रित करने के लिए वहां पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारियों को समझाया और कहा- “दिल्ली में एक बड़ा इवेंट हो रहा है। हमारी इज्जत दांव पर है। ऐसे में शांति बनाए रखना बहुत जरूरी है। हम आपकी सारी बात भी सुनेंगे।” हालांकि, इसी बीच एक प्रदर्शनकारी चिल्लाया- की “कपिल मिश्रा (भाजपा नेता) का क्या, जो इन सबके लिए जिम्मेदार है?” इस पर गोलचा ने कहा- “सुप्रीम कोर्ट अब हमारी सुन रही है। सभी का नाम खराब हुआ है।”

गोलचा के प्रदर्शनस्थल से रवाना होते ही, सीएए के विरोध में खड़े प्रदर्शनकारियों ने महिलाओं के आसपास मानव श्रृंखला बना ली। शाजमा नाम की एक महिला ने बताया-

“पूरे दिन की हिंसा में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और आदमियों को दौड़ाया। लेकिन महिलाओं ने आखिर तक अपनी जगह नहीं छोड़ी।”

Delhi CAA Clashes Hindi News- रातभर रहा अफरा-तफरी का माहौल

Delhi CAA Clashes Hindi News: शाम को प्रदर्शन के शांत होने के बावजूद CAA समर्थकों की भीड़ पूरे इलाके में लाठी-डंडों के साथ घूमती रही। सीएए का विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों के सामने आते ही भीड़ उनकी तरफ बढ़ी, लेकिन पुलिस बल ने उन्हें बीच में ही रोक दिया। पास ही मौजूद एक मंदिर में सीएए समर्थक प्रदर्शनकारी एक-दूसरे को समझा रहे थे. बाबजूद इसके दोनों पक्षों के बीच तना तानी का माहौल बना हुआ था.

Delhi Riots में शहीद हुए हेड कांस्टेबल रतन लाल

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में दिल्‍ली में हुए Delhi Riots रविवार के बाद सोमवार को भी अशांत दिखी। सोमवार को उपद्रवियों ने दिल्ली के भजनपुरा में पेट्रोल पंप सहित दो दर्जन दुकानों और घरों को आग लगा दी। इस दौरान गोली लगने के कारण हेड कांस्टेबल रतन लाल शहीद हो गए

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस क्या है, जाने इसके लक्षण एवं उपाय| What is Coronavirus in Hindi

दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं। घायलों में डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा सहित कई पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। पुलिस आयुक्त ने उत्तर-पूर्व जिले के दस थाना क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी है। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

Supreme Court के आदेश के बाद शाहीन बाग से जाफराबाद पहुंचे प्रदर्शनकारी

72 दिनों से शाहीन बाग में चल रहे धरने में सोमवार को मुश्किल 100 लोग दिखाई दिए। दरअसल, यहां धरने पर बैठे लोग Supreme Court के आदेश के बाद जाफराबाद पहुंच गए। रविवार से ही शाहीन बाग में मंच से अपील की जा रही थी कि ज्यादा से ज्यादा लोग जाफराबाद व करावल नगर में हो रहे धरना-प्रदर्शन में शामिल हो जाएं।

दिल्ली हिंसा: अमित शाह-केजरीवाल के बीच हाई लेवल मीटिंग

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में जारी हिंसक प्रदर्शन में अब तक 7 की मौत हो चुकी है और 107 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। हिंसा वाले इलाकों में पुलिस की भारी फोर्स तैनात है। इस वक्त अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और यूएस की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप भी दिल्ली में मौजूद हैं। हिंसा को मध्य नज़र रखते हुए अमित और दिल्ली के मुख्य मंत्री ने दिल्ली में बैठक बुलाई है.

Video Credit: NDTV

इस मीटिंग में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पुलिस अधिकारी शामिल हुए।दिल्ली हिंसा को लेकर अमित शाह खुद काफी ऐक्टिव हो गए हैं और पिछले 14 घंटे में उन्होंने दो बड़ी मीटिंग बुलाई। सोमवार रात 10 बजे भी उन्होंने दिल्ली के आला अधिकारियों संग बड़ी बैठक की।

Delhi Riots, Burning, Violence Hindi News-अब तक हिंसा में 7 लोगों की मौत

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में जारी हिंसक प्रदर्शन में अब तक 7 की मौत हो चुकी है और 107 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। हिंसा वाले इलाकों में भारी पुलिस फोर्स तैनात है। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों ने एक तरह से सांप्रदायिक रंग ले लिया है। मौजपुर, कबीर नगर और जाफराबाद में मंगलवार को हिंसा के तीसरे दिन हालात बेहद तनावपूर्ण हैं।

Dehli Violence Hindi News-सड़कों पर भारी फोर्स तैनात

Dehli Hindi News: पुलिस के आला अफसरों के मुताबिक, दिल्ली के नॉर्थ ईस्ट जिले की हिंसा के मद्देनजर सीआरपीएफ की दस कंपनियों को तैनात कर दिया गया है। इनमें दो कंपनियां रैपिड एक्शन फोर्स की भी हैं। क्राइम ब्रांच, स्पेशल स्टाफ, स्पेशल ब्रांच और विभिन्न यूनिट्स में तैनात पुलिसवालों को भी मैदान में उतरने के निर्देश दे दिए गए हैं।

दिल्ली के नार्थ- ईस्ट इलाके में 1 महीने के लिए धारा 144 लागू

दिल्ली में हुई हिंसा को मध्य नज़र रखते हुए पुलिस ने दिल्ली के नार्थ- ईस्ट इलाके में 1 महीने के लिए धारा 144 लगा दी है.

नागर‍िकता संशोधन कानून (CAA) हिंसा पर Gautam Gambhir का बयान

नागर‍िकता संशोधन कानून (CAA) मुद्दे पर हो रहे प्रदर्शनों  के बीच देश की राजधानी द‍िल्‍ली में ह‍िंसा भड़क गई है. द‍िल्‍ली के पूर्व क्र‍िकेटर और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने इस मामले में कड़ी प्रत‍िक्र‍िया दी है. गंभीर ने तीखे लहजे में कहा, कोई भी व्‍यक्‍त‍ि हो, चाहे वह कप‍िल म‍िश्रा हो या कोई और, भले ही वह क‍िसी भी पार्टी से संबंध रखता हो यद‍ि उसने भड़काऊ भाषण द‍िया है तो उसके ख‍िलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए.

दिल्ली हिंसा के लिए Kapil Mishra है जिम्मेदार- सूत्र

गौरतलब है क‍ि दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन के दौरान कपिल मिश्रा ने रास्ता खुलवाने के लिए भाषण द‍िया था. दरअसल, 22 जनवरी को शाहीन बाग के बाद जाफराबाद और चांद बाग में रोड बंद किए जाने के खिलाफ सड़क पर उतरे कपिल मिश्रा ने धमकी दी थी कि दिल्ली पुलिस तीन दिन के अंदर रास्तों को खाली कराए. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे के बाद वापस जाने तक हम यहां से शांतिपूर्वक जा रहे हैं, लेकिन अगर तीन दिन में रास्ते खाली नहीं हुए, तो हम फिर सड़कों पर उतरेंगे. इसके बाद हम दिल्ली पुलिस की नहीं सुनेंगे.

https://twitter.com/KapilMishra_IND/status/1231544492596981760

माना जा रहा है क‍ि बीजेपी नेता कप‍िल म‍िश्रा (Kapil Mishra) के भड़काऊ बयान के कारण ह‍िंसा भड़की।

Delhi Riots, Burning, Violence, Delhi CAA Clashes का मामला पंहुचा Supreme Court

मीडिया रिपोर्ट की ताज़ा खबरों के मुताबित Delhi Riots, Burning, Violence, Delhi CAA Clashes का मामला अब Supreme Court पहुंच गया है. सुप्रीम कोर्ट कल 26 फरवरी को इस हिंसक धटना पर अपना फैसला सुनाएगा।

One thought on “Delhi Riots, Burning, Violence, Delhi CAA Clashes 2020 Latest News in Hindi: दिल्ली हिंसा पर BJP सांसद गौतम गंभीर का ब्यान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *