Lalu Prasad Yadav CBI Raid [Hindi]| लालू प्रसाद यादव के 17 ठिकानों पर CBI की रेड, रेलवे में नौकरी के बदले जमीन लेने का आरोप

Lalu Prasad Yadav CBI Raid [Hindi] लालू यादव के 17 ठिकानों पर CBI की रेड

Lalu Prasad Yadav CBI Raid Latest Update: राजद अध्‍यक्ष लालू यादव, उनकी पत्‍नी राबड़ी देवी बड़ी बेटी मीसा भारती और इनके परिवार से जुड़े 17 ठिकानों पर शुक्रवार की सुबह सीबीआइ (Central Bureau of Investigation) ने छापेमारी की है। मामला लालू यादव के बतौर रेल मंत्री रहते नौकरी के बदले जमीन (Land For Job in Railway) लेने से जुड़ा है।

इस संबंध में सीबीआइ की जांच पहले से चल रही है और पहले भी छापे पड़ चुके हैं। पटना में सुबह के साढ़े छह बजे ही सीबीआइ अफसर राबड़ी देवी के 10, सर्कुलर रोड स्थित आवास पर पहुंच गए थे। सूत्रों की मानें तो रेलवे भर्ती बोर्ड घोटाले (RRB Bharti Scam) में नए सुबूत मिलने के बाद सीबीआइ ने नया केस दर्ज किया है। यहां आपको पूरे घटनाक्रम की हर जानकारी मिलेगी।

Lalu Prasad Yadav CBI Raid | महिला अफसर पहुंचीं, करेंगी पूछताछ

यूं तो सीबीआइ अफसर राबड़ी देवी के आवास में सुबह 6.30 बजे से ही पहुंच गई थी। लेकिन, टीम को अंदर कई तरह की मुश्‍क‍िलों का सामना करना पड़ा। बाद में सीबीआइ के और अफसर भी बारी-बारी राबड़ी आवास पर पहुंचते रहे। सुबह पौने नौ बजे के करीब एक महिला अफसर भी राबड़ी आवास पहुंचीं। बताया जा रहा है कि यह अफसर राबड़ी आवास पर मौजूद महिलाओं से पूछताछ करेंगी। 

वकील और समर्थकों का आना जारी 

राबड़ी देवी के आवास पर छापेमारी की खबर मिलते ही लालू समर्थकों और राजद के नेताओं- विधायकों का वहां आना शुरू हो गया। यहां बढ़ती भीड़ को देखकर बैरिकेडिंग कराई जा रही है। घर के अंदर और बाहर पुलिस को तैनात किया गया है। बताया जा रहा है कि लालू यादव के दो वकील भी मौके पर पहुंचे हैं।

Also Read | Shri Krishna Janmabhoomi Case [Hindi] | जानिए क्या है मामला

पांच साल रेल मंत्री रहे थे लालू यादव

Lalu Prasad Yadav CBI Raid | लालू यादव संयुक्‍त प्रगत‍िशील गठबंधन की सरकार में 2004 से 2009 तक रेल मंत्री रहे थे। इस दौरान उनपर कई तरह के घोटालों में शामिल होने के आरोप लगे थे। सीबीआइ इन मामलों में पहले से जांच कर रही है। इन मामलों में पहले भी छापेमारी हो चुकी है। 

Lalu Prasad Yadav CBI Raid | जेल से बाहर हैं लालू यादव

आपको बता दें कि 73 साल के नेता को पिछले दिनों ही चारा घोटाले के पांचवें केस में जमानत मिली है. यह चारा घोटाले का अंतिम मामला है, जिनमें उन्हें जमानत मिली है और वह जेल से बाहर आ चुके हैं.

पांच मामलों में पूरी कर चुके हैं सजा

पांच मामलों में अधिकतम पांच साल की सजा लालू प्रसाद यादव की पूरी हो चुकी है. जेल मैनुअल के अनुसार, सश्रम कारावास के अभियुक्तों के लिए नौ महीने की सजा को एक-एक साल की सजा मानी जाती है. लालू प्रसाद को पिछले दिनों हाइकोर्ट से जमानत मिली थी. लालू यादव 42 माह तक सजा काट चुके हैं.

दिल्ली और बिहार में लालू के ठिकानों पर छापेमारी

न्‍यूज एजेंसी एएनआई ने खबर दी है कि CBI ने राजद प्रमुख लालू यादव और उनकी बेटी के खिलाफ भ्रष्टाचार का नया मामला दर्ज किया है. लालू यादव को लेकर दिल्ली और बिहार में 17 जगहों पर छापेमारी चल रही है.

Also Read | ICSI CSEET Result 2022 Declared | कंपनी सेक्रेटरी एग्जीक्यूटिव एंट्रेंस टेस्ट का परिणाम घोषित, ऐसे करें चेक

Lalu Prasad Yadav CBI Raid | बड़ी संख्या में जुटे लालू के समर्थक

छापेमारी के बीच बड़ी संख्या में लालू प्रसाद यादव के समर्थक राबड़ी देवी के पटना के आवास के बाहर खड़े हैं। इन लोगों ने छापेमारी पर आक्रोश जताया है। पार्टी कार्यकर्ताओं का कहना है कि तेजस्वी यादव विदेश में हैं, लालू प्रसाद यादव दिल्ली में इलाज करवा रहे हैं। ऐसे समय में सीबीआई की छापेमारी की जा रही है।

News18 India

किस मामले में कर रही है CBI छापेमारी

लालू यादव साल 2004 से 2009 तक यूपीए सरकार में केंद्रीय रेल मंत्री रहे थे. उस दौरान उनपर कई प्रकार के घोटालों में शामिल होने का आरोप लगा था. सीबीआई इन मामलों की पहले से जांच कर ही है जिसे लेकर इससे पहले भी कई बार लालू यादव के ठिकानों में छापेमारी की जा चुकी है.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen − 3 =