Lata Mangeshkar News [Hindi]: 8 दिनों से आईसीयू में हैं लता मंगेशकर, किसी को मिलने की नहीं इजाज़त, जानें अब कैसी है तबीयत?

Home Hindi News Lata Mangeshkar News [Hindi]: 8 दिनों से आईसीयू में हैं लता मंगेशकर, किसी को मिलने की नहीं इजाज़त, जानें अब कैसी है तबीयत?
Lata Mangeshkar News [Hindi] निमोनिया से भी जूझ रही हैं लता मंगेशकर

कोरोना से संक्रमित होने के बाद लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar News in Hindi) अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां से अब तक उन्हें डिस्चार्ज नहीं किया गया है. वो अभी भी आईसीयू में ही हैं.

Lata Mangeshkar News [Hindi] निमोनिया से भी जूझ रही हैं लता मंगेशकर

अभी आईसीयू में रहेंगीं लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar is in ICU)

जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक गायिका लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) को अभी अस्पताल में ही रखा जाएगा जब तक वो पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हो जातीं. फिलहाल वो वैसी ही हैं जैसा उन्हें एडमिट कराया गया था. उनकी उम्र भी ज्यादा है ऐसे में उनसे किसी को मिलने भी नहीं दिया जा रहा है. उनकी हालत में सुधार होने के बाद ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिलेगी. फिलहाल उन्हें काफी देखभाल की जरूरत है. 

निमोनिया से भी जूझ रही हैं लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar News in Hindi)

गौरतलब है कि लता मंगेशकर को 11 जनवरी को आईसीयू में भर्ती किया गया था. जबकि ब्रीच कैंडी के ही डॉक्टर प्रतीक समधानी का कहना है कि उन्हें शनिवार की रात को ही अस्पताल में भर्ती कर दिया गया था. वह कोरोना वायरस के अलावा निमोनिया से भी जूझ रही हैं.

■ Also Read: क्या है प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चुक का पूरा मामला?

आशा भोसले को बताया गया कि लता मंगेशकर की तबीयत खराब होने की खबरें आ रही हैं, इस पर दिग्गज गायिका ने कहा, ‘नहीं-नहीं, इस तरह की खबरें गलत हैं। मैंने सिर्फ 30 मिनट पहले भाभी, अर्चना और उषा से बात की थी, लेकिन आशा जी ने कहा कि हम सभी को दीदी की सलामती के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। वह हमारे परिवार में सबकी मां जैसी हैं। उनके घर पर शिव भगवान के रुद्र बिठाए हैं और उनके ठीक होने के लिए पूजा-पाठ कर रहे हैं।’

Lata Mangeshkar News in Hindi: नवंबर 2019 से घर से बाहर नहीं निकलीं हैं गायिका

डॉक्टरों के मुताबिक, वह ठीक हो जाएंगी, लेकिन उनकी उम्र के कारण कुछ समय लग सकता है. गौरतलब है कि नवंबर 2019 के बाद से लता घर मंगेशकर से बाहर नहीं निकलीं हैं. लेकिन उनके घर के एक नौकर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो लता मंगेशकर का भी टेस्ट कराया गया और उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ गई. इससे पहले दिग्गज गायिका को नवंबर 2019 में सांस लेने में तकलीफ होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से हो चुकीं है सम्मानित

अपने सात दशक के लंबे करियर में लता मंगेशकर ने विभिन्न भाषाओं में 30 हजार से अधिक गीत गाए हैं. बता दें कि साल 2001 में उन्हें भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ दिया गया था. उन्हें साल 1989 में दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है.

■ Also Read: Paush Purnima 2022: पौष पूर्णिमा के अवसर पर जानें शास्त्र अनुकूल साधना के बारे में

लता मंगेशकर नहीं चाहती कि लोगों को उनके हेल्थ के बारें पता चले

लता मंगेशकर 08 जनवरी को कोरोना होने के बाद से आईसीयू में एडमिट हैं। कोरोना के हल्के लक्षणों का अनुभव करने के बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती कराया गया था। वह 8 दिनों से वहीं एडमिट हैं। डॉक्टर प्रतीत समदानी ने कहा है कि लता मंगेशकर का अभी भी आईसीयू में इलाज चल रहा है और वह नहीं चाहती कि बहुत से लोग उसकी स्थिति के बारे में जानें। लता मंगेशकर नहीं चाहती कि उनके स्वास्थ्य के बारे में ज्यादा जानकारी लोगों के साथ साझा की जाए।”

लता मंगेशकर के स्वास्थ्य को लेकर फैली थी झूठी खबर

इससे पहले ये खबर सामने आई थी कि लता मंगेशकर की हालत पहले से ज्यादा खराब हो गई है, लेकिन इन खबरों को लता मंगेशकर की प्रवक्ता अनुषा श्रिवासन अय्यर ने सिरे से खारिज किया है. लता मंगेशकर के स्वास्थ्य को लेकर बात करते हुए अनुषा ने एक बयान जारी किया, जिसमें उन्होंने कहा कि यह देखकर बहुत ही दुख हुआ कि कुछ फेक न्यूज फैल रही हैं. कृपया ये नोट कर लें कि लता दीदी स्थिर हैं. वह इलाज के लिए अभी भी आईसीयू में हैं. उनके जल्दी घर आने के लिए प्लीज प्रार्थना कीजिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × two =