8 June विश्व महासागर दिवस (World Ocean Day): जानें जीवन के लिए कितने जरूरी हैं महासागर और कैसे बढ़ रहा संकट?

World Ocean Day 2022 [Hindi] Theme, Quotes, History, Aim

8 जून को विश्व महासागर दिवस यानी World Ocean Day मनाया जाता है. हम आपको महासागरों से जुड़े कुछ ऐसे तथ्यों के बारे में बताएंगे जिनका मानव जिंदगी पर बड़ा असर पड़ता है. अभी तक हम महासागरों को उनमें उठने वाले तूफानों तक ही जानते हैं लेकिन महासागरो से कई अहम तथ्य जुड़े हैं जिनका हमारे जीवन से संबंध है.

क्यों मनाया जाता हैं महसागर दिवस (World Ocean Day)?

महासगर दिवस मनाने का मकसद ये है कि हम जान सकें कि महासागर हमारे लिए कितने अहम हैं. महासगरों से हमें कई तरह की दवाइयां मिलती हैं जिसमें लाइफ सेविंग से लेकर कैंसर तक की दवाइयां शामिल हैं. इसिलिए हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम महासागर के अस्तित्व को बनाए रखने और इनके सरंक्षण में अपने योगदान दें.

ये है 2022 की थीम (World Ocean Day Theme)

विश्व महासागर दिवस 2022 की थीम है पुनरोद्धार: महासागर के लिए सामूहिक कार्रवाई (Revitalization: Collective Action for the Ocean.) से जुड़े तथ्यों के बारे में आम जन तक जानकारी पहुंचाना. लोगों में ये जागरूकता पैदा करना  कि ये महासगर ही हैं जो पूरी दुनिया में प्रोटीन उपलब्ध कराने का सबसे बड़ी जरिया हैं. महासागर इकॉनोमी मजबूत करने और रोजगार देने में भी अहम रोल अदा करते हैं. अनुमान के मुताबिक दुनिया के  40 मिलियन लोग 2030 तक महासागर आधारित इंडस्ट्री से जुड़े होंगे.

इस बार वर्चुअली मनाया जाएगा महासागर दिवस

पिछले साल की तरह कोविड 19 महामारी के चलते इस साल भी विश्व पर्यावरण दिवस वर्चुअली ही मनाया जाएगा. महासागर दिवस मनाने की बात रियो डी जेनेरियो के अर्थ समिट में सन 1992 में पहली बार सामने आई थी.

Also Read: World Food Safety Day: जानिए क्यों मनाया जाता है विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस, क्या है इसका इतिहास और महत्त्व?

गंदगी न फैलाएं, जिम्मेदार नगारिक बनें

क्या हम अपने घर के अंदर गंदगी फैलाते हैं? हम अपने घर की सफाई रोजाना क्यों करते हैं? अगर इन सवालों के जवाब पूछें जाएं, तो कोई भी यही कहेगा कि ये जरूरी है। ऐसे में क्या ये जरूरी नहीं कि हम अपने समुद्र और वायुमंडल को भी साफ रखें? जब हम समुद्र के किनारे कुछ खाते हैं तो उसके पैकेट या बची हुई चीज को वहां क्यों फेंक देते हैं? हमें इस बात का ध्यान रखना है कि हर एक व्यक्ति को एक जिम्मेदार नागिरक बनते हुए कहीं भी गंदगी नहीं फैलानी चाहिए। इससे हम अपने महासागरों को बचाने की तरफ एक कदम बढ़ा सकते हैं।

विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस का इतिहास (World Ocean Day History in Hindi)

यह तीसरा वर्ष है जब विश्व इस दिन का आयोजन करने जा रहा है। साल 2018 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस मनाने की घोषणा की गई और तभी से प्रतिवर्ष 7 जून को इस दिन का आयोजन किया जाने लगा। कोरोना महामारी के कारण पिछले वर्ष इस दिन का आयोजन ऑनलाइन ही किया गया था। इस वर्ष भी इसे ऑनलाइन ही मनाया जाना है।

Also Read: International Family Day : Family behind the success of members 

विश्व समुद्र दिवस मनाने का उद्देश्य

समुद्र से घिरे होने के कारण ही पृथ्वी को ‘वॉटर प्लैनेट’ भी कहा जाता है, लेकिन अब इसी वॉटर प्लैनेट का अस्तित्व खतरे में है। महासागर पर्यावरण संतुलन में अहम भूमिका निभाते हैं और पृथ्वी पर जीवन का प्रतीक हैं। अनादिकाल से महासागर जीवन के विविध रूपों में संजोए हुए हैं, जिनमें अति सूक्ष्म जीवों से लेकर विशालकाय व्हेल तक अनेक प्रकार के जीव-जंतु और वनस्पतियां पनपती हैं। वैज्ञानिकों का अनुमान है कि समुद्रों में जीवों की करीब 10 लाख प्रजातियां मौजूद हैं। जिनका प्राकृतिक आवास है महासागर।

Credit: USOceangov

Leave a Reply

Your email address will not be published.

13 − one =