MDH Owner Dharampal Gulati Death News [Hindi]: नहीं रहे मसालों के शहनशाह महाशय धर्मपाल गुलाटी

MDH Owner Death News: मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच (MDH) के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी (Dharampal Gulati) का आज सुबह निधन हो गया। वह 98 साल के थे। बताया जा रहा है कि धर्मपाल गुलाटी ने दिल्ली के माता चंदन देवी हॉस्पिटल में 3 दिसंबर को सुबह 6 बजे आखिरी सांस ली।

MDH Owner Dharampal Death News: पाकिस्तान में हुआ था जन्म

महाशय धर्मपाल गुलाटी (Dharampal Gulati) का जन्म 27 मार्च 1923 में पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था और यहीं से उनके मसाले के कारोबार की नींव पड़ी थी। कंपनी की शुरुआत शहर में एक छोटे से दुकान से हुई, जिसे उनके पिता ने विभाजन से पहले शुरू किया थ। हालांकि, 1947 में देश के विभाजन के समय उनका परिवार दिल्ली आ गया था। MDH के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में निधन

MDH के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में निधन

मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच (MDH) के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी (Dharampal Gulati) का आज सुबह निधन हो गया। वह 98 साल के थे। बताया जा रहा है कि धर्मपाल गुलाटी ने दिल्ली के माता चंदन देवी हॉस्पिटल में 3 दिसंबर को सुबह 6 बजे आखिरी सांस ली।

पद्मविभूषण से हो चुके हैं सम्मानित

कारोबार और फूड प्रोसेसिंग में योगदान के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले साल महाशय धर्मपाल को पद्मविभूषण से सम्मानित किया था।

■ यह भी पढ़ें: Ahmed Patel Death News: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का कोरोना से निधन

वह अपने पिता के मसाले के व्यवसाय में शामिल हो गए, ‘महाशियां दी हट्टी’ के नाम से, जिन्हें उन दिनों ‘देगी मिर्च’ के नाम से भी जाना जाता था. धर्मपाल गुलाटी ने अकेले इस ब्रांड को दुनिया सा सबसे पॉपुलर ब्रांड बनाया. उन्होंने दिल्ली के करोल बाग मार्केट में अजमल रोड से इसकी शुरुआत की. उन्होंने 1959 में 1500 रुपये से बिजनेस शुरू किया था. आज MDH दुनिया भर में विभिन्न देशों को निर्यात के साथ एक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त ब्रांड है.

■ Also Read: Farmer’s Bill 2020 Protest 2.0: Why Farmer Unions Are Unhappy Over the New Farm Laws? 

मसाला किंग के नाम से मशहूर गुलाटी को 2019 में देश के तीसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. धर्मपाल गुलाटी न केवल एक सफल व्यवसायी थे, बल्कि एक प्रसिद्ध परोपकारी भी थे. कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर, उन्होंने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को 7,500 पीपीई (व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण) किट दान किए.

Credit: ThePrint

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *