Mulayam Singh Yadav Birthday: सपा संस्थापक मुलायम सिंह का जन्मदिन आज

Mulayam Singh Yadav Birthday: शिवपाल यादव आज सैफई के चंदगीराम स्टेडियम में मुलायम के जन्मदिन पर दंगल करा रहे हैं. लेकिन अखिलेश लखनऊ ऑफिस में केक काट कर जन्मदिन मनाएंगे. Mulayam Singh Yadav Birthday: तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और देश के रक्षामंत्री रहे सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) का आज जन्मदिन है. मुलायम सिंह यादव आज अपना 82वां जन्मदिन मना रहे हैं. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने ऐलान किया है कि वह सादगी से सपा संरक्षक का जन्मदिन मनाएगी. मुलायम सिंह यादव को बधाईयाँ दी जा रही हैं.

Mulayam Singh Yadav Birthday सपा संस्थापक मुलायम सिंह का जन्मदिन आज

Mulayam Singh Yadav (मुलायम सिंह यादव) का जीवन परिचय

मुलायम सिंह यादव का जन्म इटावा जिले के सैफई गांव में मूर्ती देवी व सुधर सिंह के किसान परिवार में हुआ था। मुलायम सिंह अपने पांच भाई-बहनों में रतनसिंह से छोटे व अभयराम सिंह, शिवपाल सिंह, रामगोपाल सिंह और कमला देवी से बड़े हैं। पिता सुधर सिंह उन्हें पहलवान बनाना चाहते थे किन्तु पहलवानी में अपने राजनीतिक गुरु नत्थूसिंह को मैनपुरी में आयोजित एक कुश्ती-प्रतियोगिता में प्रभावित करने के पश्चात उन्होंने नत्थूसिंह के परम्परागत विधान सभा क्षेत्र जसवन्त नगर से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया। 

वहीं राज्य में होने वाले चुनाव से पहले पीएसपी अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव रथयात्रा निकाल रहे हैं और बार-बार समाजवादी पार्टी में पीएसपी का विलय कराने की बात कर रहे हैं. वहीं अखिलेश यादव भी राज्य में विजय यात्रा के जरिए बीजेपी सरकार के खिलाफ जनता को एकजुट कर रहे हैं और छोटे दलों के साथ गठबंधन कर रहे हैं.

■ Also Read: Surrogate Advertising in India: भ्रामकता फैलाते सरोगेट विज्ञापन

इसी रणनीति के तहत अखिलेश यादव ने शिवपाल सिंह के साथ चुनाव गठबंधन की बात कही थी. लेकिन अभी तक दोनों ही दलों में इसको लेकर कोई सहमति नहीं बनी है. वहीं आज इसको लेकर उम्मीद की जा रही थी.

Mulayam Singh Yadav Birthday: सपा के दिग्गज नेता मुलायम सिंह यादव के बारे में रोचक तथ्य

  1. मुलायम सिंह यादव ने 4 अक्टूबर 1992 को समाजवादी पार्टी की स्थापना की।
  2. मुलायम सिंह पहली बार 1967 में उत्तर प्रदेश की विधान सभा में विधान सभा (एमएलए) के सदस्य के रूप में चुने गए थे।
  3. 1975 में इमरजेंसी के दौरान, मुलायम सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया था और महीनों तक हिरासत में रखा गया था।
  4. 1977 में, वह उत्तर प्रदेश में लोक दल (पीपुल्स पार्टी) के अध्यक्ष बने। हालांकि बाद में उन्होंने अपनी पार्टी बनाई।
  5. यादव राज नारायण के प्रबल अनुयायी थे जिन्होंने रायबरेली चुनाव क्षेत्र से 1977 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा गांधी को हराया था।
  6. उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर तीन कार्यकालों में जनता की सेवा की।
  7. वह विवाद तब घिर गए थे जब उन्होंने रेप मामलों पर कहा था कि लड़कों से गलती हो जाती है। 

Mulayam Singh Yadav Birthday: 2017 से अखिलेश और शिवपाल में मनमुटाव

साल 2017 में कई महीनों की खटपट के बाद यादव कुनबे में फूट पड़ गई थी. शिवपाल और अखिलेश के रास्ते अलग हो गए थे. पहले तो समाजवादी पार्टी पर कब्जे की लड़ाई हुई और बाद में शिवपाल यादव ने अपनी अलग पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) बनाई थी. इसके बाद से ही अखिलेश और शिवपाल में मनमुटाव है.

■ Also Read: Farm Laws Repeal 2021: जानिए क्यों PM मोदी ने लिए कृषि कानून वापिस?

अखिलेश और शिवपाल निकाल रहे हैं रथयात्रा

वहीं राज्य में होने वाले चुनाव से पहले पीएसपी अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव रथयात्रा निकाल रहे हैं और बार-बार समाजवादी पार्टी में पीएसपी का विलय कराने की बात कर रहे हैं. वहीं अखिलेश यादव भी राज्य में विजय यात्रा के जरिए बीजेपी सरकार के खिलाफ जनता को एकजुट कर रहे हैं और छोटे दलों के साथ गठबंधन कर रहे हैं. इसी रणनीति के तहत अखिलेश यादव ने शिवपाल सिंह के साथ चुनाव गठबंधन की बात कही थी. लेकिन अभी तक दोनों ही दलों में इसको लेकर कोई सहमति नहीं बनी है. वहीं आज इसको लेकर उम्मीद की जा रही थी.

Credit: ABP News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *