जानिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के बारे में

PM Kisan Samman Nidhi Yojana hindi (प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि)

PM Kisan Yojana Kist:: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि केंद्र सरकार की एक अति महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना का लक्ष्य किसानों की आय में बढ़ोत्तरी करना है। पीएम किसान योजना के तहत सरकार हर वित्त वर्ष में किसानों के बैंक खातों में कुल छह हज़ार रुपये की रकम ट्रांसफर करती है। सरकार अगस्त महीने में छठी किस्त जारी कर चुकी है और अब किसानों को इसकी सातवीं किस्त मिल रही है। छठी किस्त के तहत 18000 करोड़ रुपये जारी किए गए थे। इस योजना के तहत एक साथ नौ करोड़ किसानों के खातों में पैसे हस्तांतरित किए जाएंगे । अटल जयंती (Atal Jyanti) के अवसर पर देश के अलग-अलग हिस्सों में बीजेपी की 2500 किसान चौपाल आयोजित की गईं।

पीएम किसान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के मुख्य बिंदुओं पर एक नज़र

  • पीएम किसान योजना के तहत सरकार हर वित्त वर्ष में किसानों के बैंक खातों में कुल छह हजार रुपये की रकम ट्रांसफर करती है। 
  • पीएम-किसान योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को इस स्कीम में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है और किसान के पास आधार कार्ड नंबर, बैंक खाता जरूर होना चाहिए।
  • यह रकम किसानों के बैंक खातों में 2000-2000 रुपये की तीन बराबर किस्तों में भेजी जाती है।
  • सरकार ने चालू वित्त वर्ष की पहली किस्त अप्रैल में और अगस्त में दूसरी किस्त भेजी थी। इसके बाद दिसंबर के पहले सप्ताह से किसान तीसरी किस्त का इंतजार कर रहे थे।
  • पीएम किसान योजना से जुड़े विवरण बहुत आसानी से इस योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। ऐसे में आप मिनटों में इससे जुड़ी स्थिति का पता लगा सकते हैं।
  • सरकार ने इस साल पीएम-किसान योजना का फायदा लेने वाले किसानों की लिस्ट भी वेबसाइट pmkisan.gov.in पर अपलोड की है। 
  • किसान अपने कागजात सीधे वेबसाइट pmkisan.gov.in पर अपलोड कर सकते हैं। वेबसाइट के Farmer Corner ऑप्शन में आधार कार्ड को जोड़ने का ऑप्शन मिलता है।
  • मोदी सरकार ने पीएम किसान मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। पीएम किसान मोबाइल ऐप में वे सभी सुविधाएं हैं जो पीएम-किसान आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।
  • ज़मीनी सरकार से ऊपर होती है परमात्मा की सरकार जिस पर आश्रित होकर मानव उत्थान निश्चित है।

सुनकर नाम कबीर का थर थर कांपे काल।
नाम भरोसे जो रहे उसका होवे न बांका बाल।।

अभी 4 करोड़ से अधिक किसान इस किस्त से वंचित

इस बार सोमवार को पीएम नरेन्द्र मोदी ने 12वीं किस्त या अगस्त-नवंबर 2022 की किस्त जारी की । किस्त की कुल रकम घटकर ₹16000 रुपये रह गई है। यानी 5000 करोड़ रुपये कम। इस हिसाब से  2.50 करोड़ किसानों को किस्त नहीं मिली। बता दें पीएम किसान पोर्टल पर 12 करोड़ से अधिक किसान रजिस्टर्ड हैं। रजिस्टर्ड किसानों की संख्या से तुलना करें तो अभी 4 करोड़ से अधिक किसान इस किस्त से वंचित हैं।

ऐसे चेक करें लिस्ट

  • सबसे पहले पीएम किसान पोर्टल https://pmkisan.gov.in/  पर जाएं । होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ पर जाएं।  यहां Beneficiary List पर क्लिक/टैप करें। इतना करने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक पेज खुलेगा।
  •  यहां आप स्टेट में ड्रॉप-डाउन मेन्यू से अपने राज्य को सिलेक्ट करें। इसके बाद दूसरे टैब में जिला, तीसरे में तहसील या उप जिला, चौथे में ब्लॉक और पांचवें में अपने गांव का नाम चुनें। इसके बाद Get Report पर क्लिक करते ही पूरे गांव की लिस्ट आपके सामने होगी।

PM Kisan Yojana Kist: इतनी भेजी क़िस्त 

बता दें कि पात्र किसानों के खातों में डीबीटी के माध्यम से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 16,000 करोड़ की राशि 2000-2000 रुपये रूप में भेजी गई है. इस बार ई-वाईसी और फिजिकल वेरीफिकेशन के चलते अगस्त-नवंबर की किस्त देर से आ रही है. बता दें कि इस योजना के तहत पात्र किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष 3 समान किस्तों में लाभ दिया है. अब तक पात्र किसान परिवारों को PM-KISAN के तहत 2 लाख करोड़ की सहायता दी जा चुकी है.

ऑनलाइन कैसे करें (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) में आवेदन?

PM Kisan Yojana Kist: पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए किसान घर बैठे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। बैंक खाते को आधार नंबर से जोड़ना जरूरी है क्योंकि सरकार पीएम-किसान की किस्त डीबीटी के जरिए सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर करती है। pmkisan.gov.in वेबसाइट को खोलने पर आपको बेवसाइट के दाईं ओर ‘फार्मर कार्नर’ का विकल्प दिखाई देगा। ‘फार्मर कार्नर’ के नीचे न्यू फॉर्मर रजिस्ट्रेशन का विकल्प है। इस टैब में किसानों को पंजीकृत करने के लिए निम्नलिखित कागज़ात और नंबर होना ज़रूरी है जैसे:

  • खेत की खतौनी,
  • आधार कार्ड,
  • कैप्चा कोड (इमेज टेक्स्ट) को देखकर भरना होगा।
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • खसरा नंबर
  • एरिया का साइज दर्ज कर आप इन्हें सेव कर रजिस्टर कर सकते हैं।

अब सभी किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ उठा सकते हैं

केन्द्र सरकार ने जब इस योजना की शुरुआत की थी, तब इसकी पात्रता की शर्तों में लिखा था कि जिसके पास 2 हेक्टेयर (5 एकड़) तक कृषि योग्य खेती है उसी को लाभ मिलेगा। लेकिन अब मोदी सरकार ने जोत की सीमा खत्म कर दी है। हालांकि, अब भी कई शर्तें लागू हैं जैसे-आयकर चुकाने वालों को इस योजना से बाहर रखा गया है।

■ यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PMKSY) क्या है? 

कब हुई थी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) योजना की शुरुआत?

1 दिसम्बर 2018 से लागू यह योजना किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है। योजना की शुरुआत वर्ष 2018 के रबी सीजन में की गई थी। छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य इनपुट की उपलब्धता में सहूलियत मिल रही है। जो छोटे और सीमान्त किसान जिनके पास 2 हेक्टेयर (4.9 एकड़) से कम भूमि है उनको आर्थिक सहायता प्रदान करती

है।

Credit: B R TECHNICAL & EDUCATION

साहेब से सब होत है, बन्दे से कुछ नाहीं।
राई से पर्वत करें, पर्वत से फिर राई।।

कबीर परमात्मा सब सुखों के दाता हैं एक बार परमात्मा को पुकार कर तो देखो । मदद के लिए दौड़ा न चला आए तो फिर कहना। विश्वास परमात्मा पर करो , परमात्मा को जानने के लिए साधना TV पर रात 7:30pm से सत्संग सुनो। संत रामपाल जी जगतपालनहार सब के लिए धरती पर विद्यमान हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

18 + 11 =