Delhi Electric Bus News [Hindi] | अब दिल्ली में सफर करना होगा और भी बेहतर, दिल्ली की सड़कों पर दौड़ेंगी 150 इलेक्ट्रिक बसें

Delhi Electric Bus News [Hindi] इन 10 रूटों पर चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें

Delhi Electric Bus News [Hindi] | दिल्ली सरकार का दावा है कि अगले आने वाले महीनो में और 150 बसों को इस बेड़े में शामिल किया जाएगा. वहीं बीजेपी ने आरोप लगाया है कि सीएम काम का क्रेडिट खुद ले रहे है. इन बसों के सड़क पर उतरने के साथ ही दिल्ली सरकार ने ये एलान भी किया है कि पहले 3 दिन यानी 24 से 26 मई तक इन बसों में लोग फ़्री में सफ़र कर पायेंगे. ये इलेक्ट्रिक बसें जीरो स्मोक, जीरो एमिशन वाली है जिनमें सीसीटीवी कैमरे (CCTV Camera), जीपीएस, 10 पैनिक बटन, दिव्यांगों के लिए रैंप जैसी बहुत सारी अत्याधुनिक सुविधायें मौजूद है. इन 150 बसों के रख रखाव के लिए मुंडेलकलां, राजघाट और रोहिणी सेक्टर-37 में तीन डिपो को पूरी तरह से इलेक्ट्रिक बस डिपो के रूप में तैयार किया गया हैं. 

Delhi Electric Bus News [Hindi] | 3 दिन के लिए लोगों के लिये फ्री

इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आंदोलन के समय जब बसों में घूमते थे तो AC बहुत धीमा होता था लेकिन इन बसों में AC बहुत अच्छे से काम करता है. इन्हें हमने अगले 3 दिन के लिए लोगों के लिये फ़्री (Free Bus Service) किया है  ताकि लोग खूब घूमें, इनकी राइड लेकर देखें, साथ ही इन बसों में सफ़र के दौरान मुसाफ़िरों को आईपैड जीतने का मौक़ा भी दिया जा रहा है इसके लिये सफर के दौरान सेल्फ़ी क्लिक करें और  #IRIDEEBUS के साथ सोशल मीडिया पर अपलोड करें. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इलेक्ट्रिक बसों से प्रदूषण (Pollution) कम होगा. एक महीने बाद 150 बसें और आ रहीं हैं. जिसके बाद कुल 300 इलेक्ट्रिक बसें डीटीसी (DTC) में शामिल हो जायेंगी. 

Delhi Electric Bus News [Hindi] | 2 हजार इलेक्ट्रिक बसों का लक्ष्य 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार का लक्ष्य है कि एक साल में 2 हजार इलेक्ट्रिक बसें (Electric Buses) दिल्ली की सड़कों पर दौड़े. उन्होंने जानकारी देते हुये कहा कि फ़िलहाल 300 बसों के रखरखाव और ख़रीद में सरकार 10 साल में 1862 करोड़ रुपये खर्च करेगी. सीएम ने जानकारी देते हुये कहा कि इसके अलावा 150 करोड़ रूपये केंद्र सरकार (Central Government) से मिल रहे हैं. आज 3 इलेक्ट्रिक चार्जिंग डिपो (Electric Charging Depot) का भी उद्घाटन किया गया जिसे 150 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है जिनकी संख्या आने वाले दिनों में बढ़ायी जायेगी.

■ Also Read | Petrol Price in Delhi: अपने शहर में आज के भाव यूं जानें

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बताया जाता है कि दिल्ली में 11 हजार बसों की जरूरत है, अब दिल्ली में 7200 की करीब बसें हो गईं हैं, यह दिल्ली के इतिहास में बसों की सबसे बड़ी संख्या है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि अगले एक साल के अंदर लगभग 2000 बसें आएंगी. साथ ही कहा कि इलेक्ट्रिक बसों के अलावा आने वाले दिनों में 600-700 सीएनजी बसें भी खरीदेंगे क्योंकि इलेक्ट्रिक बसों का प्रोडक्शन भी बहुत कम है. लेकिन आने वाले दिनों में जितनी भी बसों की खरीद होगी अब वह इलेक्ट्रिक ही होगी.

बगैर प्रदूषण और शोर, बेहद आरामदाय हैं ई बसें: कैलाश गहलोत

Delhi Electric Bus News [Hindi] | परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि यह हमारे लिए बहुत बड़ा दिन है। दिल्ली सरकार हमेशा अपने लोगों को ग्रीनर मोड ट्रांसपोर्ट और ईवी पर स्विच करने के लिए प्रेरित करती रही है। हम दिल्लीवासियों में देखना चाहते हैं कि लोग जब ई बसों में यात्रा करें तो इसकी सुविधा और अपने अनुभवों को साझा करें। मैंने व्यक्तिगत रूप से इन बसों को चलावाया और यात्रा की। शून्य प्रदूषण और बगैर शोर के चलने वाली बसें यात्रियों के लिए भी बेहद आरामदायक हैं। 

 ड‍िप्‍टी कम‍िश्‍नर (डीटीसी सेक्रेटेर‍िएट) व‍िनीत कुमार की ओर से सोमवार को आदेश जारी क‍िया है. द‍िल्‍ली पर‍िवहन न‍िगम, डीटीसी, ई-बसें, इलेक्‍ट्र‍िक बसें, द‍िल्‍ली सरकार, केजरीवाल सरकार, डीटीसी बस, द‍िल्‍ली पर‍िवहन, द‍िल्‍ली समाचार, Delhi Transport Corporation, DTC, DTC Buses, Delhi government, Electric Buses, E-Buses, Kejriwal Government, Delhi Transport, Delhi news

Delhi Electric Bus News [Hindi] | इन 10 रूटों पर चलेंगी यह बसें

बसों के परिचालन के लिए डिपो में सभी बुनियादी इंतजाम कर लिए गए हैं। इसके लिए 32 फास्ट चार्जर होंगे जबकि रोहिणी सेक्टर-37 में भी 25 फास्ट चार्जर लगाए जा चुके हैं। इस डिपो में 48 फास्ट ई चार्जर लगाए जाने हैं। शुरुआत में ई-44, 957, 901, रिंग रोड(दोनों तरफ से-प्लस और माइनस) 10 मार्गों पर बसों का परिचालन किया जाएगा। इसके बाद 150 और नई बसें मुंडेला कलां से जाफरपुर, आयुर्वेदिक अस्पताल(खेड़ा डाबर), आजादपुर, नेहरु प्लेस, कश्मीरी गेट, मोती नगर, पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन सहित अन्य मार्गों पर भी यात्रियों को सेवाएं देंगी।

■ Also Read | चीन-ताइवान विवाद (China Taiwan Conflict) से दो महाशक्तियां आमने-सामने, जानिए विश्व पटल पर पुनः शांति की स्थापना कैसे होगी?

​दिल्ली में पहली बार 7 हजार से अधिक बसें

Delhi Electric Bus News [Hindi] | 150 बसों के सड़कों पर उतरने को लेकर ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत ने कहा कि इसके साथ ही दिल्ली के इतिहास में सार्वजनिक बसों की कुल संख्या पहली बार 7205 हो गई है।

इलेक्ट्रिक बसों में मिलेगी से सुविधाएं

जीरो स्मोक और जीरो एमिशन वाली इन अत्याधुनिक बसों में सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस, 10 पैनिक बटन, दिव्यांगों के लिए रैंप आदि हैं. इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जनवरी में 2 प्रोटोटाइप इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई थी.

Credit: NDTV India

आईपैड जीतने का है मौका

इसके साथ ही दिल्ली सरकार ने ई-बसों में यात्रा करने के लिए प्रेरित के लिए और इनका प्रचार करने के लिए एक प्रतियोगिता की भी घोषणा की है. इसके तहत मुफ्त सवारी के अलावा दिल्ली सरकार नागरिकों से ई-बसों की सवारी करने के दौरान एक सेल्फी लेकर हैशटैग के साथ इसे अपने इंस्टाग्राम, ट्विटर और फेसबुक हैंडल पर पोस्ट करने का भी आग्रह किया है. इसमें शामिल टॉप तीन प्रतियोगियों के पास आईपैड जीतने का मौका होगा.

इलेक्ट्रिक बस में सीएम केजरीवाल ने खुद की सवारी

नई इलेक्ट्रिक बसों (New electric buses) को सीएम केजरीवाल ने इंद्रप्रस्थ डिपो से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. जिसमें से एक बस में वह खुद सवार होकर राजघाट बस डिपो पहुंचे. इस दौरान उनके साथ दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत और मुख्य सचिव नरेश कुमार ने भी बस की सवारी की. इस खुशी के मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्ली के नए उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना का भी स्वागत करते हुए कहा कि हम मिलकर काम करेंगे तो दिल्ली को एक नई ऊंचाइय़ों तक लें जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × 1 =