Elon Musk Twitter [Hindi] | Twitter से तीन अधिकारियों की हुई विदाई, क्या Elon Musk हैं वजह? जानिए पूरा मामला

Elon Musk Twitter [Hindi] Twitter से तीन अधिकारियों की हुई विदाई

Elon Musk Twitter [Hindi] | Twitter से इस्तीफा देने वाले प्रोडक्ट मैनेजमेंट की वाइस प्रेसिडेंट, ट्विटर सर्विस की वीपी और डेटा साइंस के हेड हैं. ट्विटर (Twitter) को एलन मस्क (Elon Musk) द्वारा खरीदे जाने से पहले सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर के तीन और वरिष्ठ अधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है, जिनमें से दो अधिकारी वाइस प्रेसिडेंट के पद पर थे.

ब्लूमबर्ग के मुताबिक, एक मेमो के अनुसार, प्रोडक्ट मैनेजमेंट की वाइस प्रेसिडेंट (वीपी) इल्या ब्राउन, ट्विटर सर्विस की वीपी कैटरीना लेन और डेटा साइंस के हेड मैक्स शमीजर कंपनी छोड़ रहे हैं. इन तीनों ने खुद ही बाहर निकलने का फैसला किया है.

तीन लोगों की हुई विदाई

रिपोर्ट्स की मानें तो प्रोडक्ट मैनेजमेंट फॉर हेल्थ, कन्वर्सेशन और ग्रोथ की वाइस प्रेसिडेंट Ilya Brown, ट्विटर सर्विस की वाइस प्रेसिडेंट Katrina Lane और डेटा साइंस के हेड Max Schmeiser ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. इन सभी अधिकारियों ने एलॉन मस्क की एंट्री की वजह से पैदा हुई अनिश्चिता की वजह से इस्तीफा दिया है. 

Elon Musk ने ट्वीट कर दी जानकारी

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने मंगलवार को कहा कि ट्विटर इंक कमर्शियल और सरकारी यूजर्स के लिए मामूली शुल्क (Twitter Charge For Government Users) ले सकता है. मस्क ने एक ट्वीट में कहा, “कैजुअल यूजर्स के लिए ट्विटर हमेशा फ्री रहेगा, लेकिन कमर्शियल/सरकारी यूजर्स के लिए यह थोड़ी सी कीमत हो सकती है.”

Also Read | Elon Musk Twitter News [Hindi] | ट्विटर के मालिक बने एलोन मस्क

Elon Musk Twitter [Hindi] | बदलाव के मूड में एलन मस्क

ट्विटर को 44 अरब डॉलर में खरीदने के बाद रिपोर्ट्स की मानें तो एलन मस्क अब कंपनी ने कई बड़े बदलाव करने के मूड में हैं. कहा तो यह भी जा रहा है कि कंपनी से सीईओ पराग अग्रवाल और पॉलिसी हेड विजया गाड्डे को निकाला जा सकता है. 

पराग अग्रवाल ने क्‍या लिखा था?

ट्विटर के सीईओ ने दर्जन भर से ज्‍यादा ट्वीट्स में ‘डेटा, फैक्‍ट्स और कॉन्‍टेक्‍स्‍ट’ की मदद से स्‍पैम के बारे में समझाने की कोशिश की। उन्‍होंने बताया कि कंपनी रोज 5 लाख से ज्‍यायादा स्‍पैम अकाउंट्स को सस्‍पेंड करती है। हर हफ्ते करोड़ों अकाउंट्स लॉक किए जाते हैं। उन्‍होंने कहा क‍ि ‘हम स्‍पैम पकड़ने में परफेक्‍ट नहीं हैं।’ अग्रवाल के मुताबिक, पिछले चार तिमाहियों के आंतरिक अनुमान बताते हैं कि स्‍पैम अकाउंट्स की संख्‍या टोटल यूजरबेस के 5% से ज्‍यादा नहीं थी।

मस्‍क ने क्‍या जवाब दिया?

अग्रवाल ने एक ट्वीट में लिखा था कि किसी अकाउंट के ह्यूमन रिव्‍यू में पब्लिक और प्राइवेट, दोनों तरह के डेटा (आईपी, फोन नंबर, लोकेशन, ब्राउजर, ऑनलाइन एक्टिविटी) का इस्‍तेमाल होता है। इसपर मस्‍क ने पूछा, क्‍या आपने उन्‍हें (यूजर्स) को कॉल करने की कोशिश की है?’ अग्रवाल के यह कहने कि ट्विटर पर कितने स्‍पैम अकाउंट्स हैं, इसका अनुमान बाहर से नहीं लगाया जा सकता, पर मस्‍क ने ‘पाइल ऑफ पू’ इमोजी ट्वीट किया। मानो अग्रवाल से कहना चाहते हों कि आप गुड़गोबर कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × two =