Mukhtar Ansari Latest News: रास्ते में बार बार पलटने से बची गाड़ी, मुख्तार अंसारी सही सलामत पहुचें UP की जेल

Mukhtar Ansari Latest News: बाहुबली मुख्तार अंसारी को आज सुबह साढ़े चार बजे कड़ी सुरक्षा के बीच पंजाब से उत्तर प्रदेश की बांदा जेल लाया गया है. मुख्तार अंसारी को जेल की बैरक नंबर 16 में कड़ी सुरक्षा में रखा गया है. यूपी में मुख्तार अंसारी पर 52 मुकदमे दर्ज हैं. जिसमें से सबसे बड़ा मामला बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या का है. जानिए मुख्तार अंसाली यूपी से पंजाब की जेल कैसे पहुंचा. साथ ही जानिए वह कैसे साजिश बनाकर अपराध को अंजाम देता था.

Mukhtar Ansari Latest News in hindi

दरअसल इस वाकये के तार बिहार के आरा कोर्ट में हुई उस वारदात से जुड़ते हैं जिसमें कोर्ट परिसर में मानव बम विस्फोट किया गया था. पूरा वाकया कुछ यूं था कि 23 जनवरी 2015 को सिविल कोर्ट परिसर के हाजत के पास बम विस्फोट हुआ था. विस्फोट में भोजपुर पुलिस का एक जवान अमित कुमार शहीद हो गया था और  20 लोग घायल भी हुए थे. कोर्ट में बम लेकर आई यूपी के बलिया की एक महिला नगीना देवी की मौत हो गई थी और बम विस्फोट के बाद जेल से पेशी के लिए लाए गए कुख्यात अपराधी लंबू शर्मा और अखिलेश उपाध्याय फरार हो गए थे.

Mukhtar Ansari Latest News: दिल्ली पुलिस का खुलासा

23 जून 2015 को लंबू शर्मा की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया था कि लंबू शर्मा को जेल से भगाने में उसकी प्रेमिका नगीना को मानव बम बनाने की साजिश रची गई थी. दिल्ली पुलिस ने यह भी खुलासा किया था कि नगीना को धोखे में रखकर यह काम करवाया गया. उसे पता नहीं था कि उसका इस्‍तेमाल मानव बम की तरह किया जाएगा. बम के धमाके बीच मची अफरातफरी के माहौल में लंबू न्‍यायिक हिरासत से फरार हो गया, लेकिन फरारी जब लंबू शर्मा पकड़ाया तो बिहार, यूपी और दिल्‍ली पुलिस को उसके भागने  के पीछे की कहानी का पता चला.

Also Read: COVID-19 की दूसरी लहर: सद्भक्ति से ही संभव है स्थायी समाधान 

Mukhtar Ansari Latest News: साजिश के कई एंगल

दावे के अनुसार इस योजना में सुनील पांडेय के अलावा उत्‍तर प्रदेश के एक और बाहुबली बृजेश सिंह का भी हाथ होने की बात सामने आई थी. दिल्ली पुलिस के अनुसार लंबू को दबोचने वाली दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया था कि वह मुख्तार के कत्‍ल की साजिश का अहम हिस्सा था. इस पूरी साजिश में मुख्‍तार के एक करीबी के भी शामिल होने की बात सामने आई थी. मुख्‍तार गैंग का सबसे बड़ा दुश्‍मन बृजेश सिंह पूरी साजिश को लीड कर रहा था.

मुख्‍तार की पत्‍नी की याच‍िका पर शुक्रवार को सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

वहीं सुप्रीम कोर्ट में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी की उस याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करेगा जिसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार को राज्य में उसके पति की ‘सुरक्षा’ सुनिश्चित करने और उसके खिलाफ निष्पक्ष रूप से मुकदमा चलाने का निर्देश देने का अनुरोध किया है. न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी की पीठ अफशां अंसारी की याचिका पर नौ अप्रैल को सुनवाई करेगी. याचिका में आरोप लगाया गया है कि उत्तर प्रदेश में अंसारी की जान को गंभीर खतरा है.

उत्तर प्रदेश पुलिस को सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर मंगलवार को ही पंजाब पुलिस से अंसारी की हिरासत मिली है. अंसारी पर उत्तर प्रदेश में कई जघन्य आपराधिक वारदात को अंसाम देने का आरोप है. सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में आरोप लगाया गया है कि उत्तर प्रदेश में अंसारी की जान को ‘गंभीर खतरा’ है और अगर न्यायालय उसकी सुरक्षा के लिए कदम उठाने का निर्देश नहीं देगा तो अंसारी की हत्या होने की ‘प्रबल आशंका’ है.

Mukhtar Ansari Latest News: आखिर वक्त में क्यों बदला मुख्तार का बैरक का नंबर

सुप्रीम कोर्ट ने जैसे ही मुख्तार अंसारी को पंजाब से यूपी की बांदा जेल में शिफ्ट किए जाने का आदेश जारी किया था. उसके बाद से ही बांदा जेल में तैयारियां शुरू हो गई थीं. इसके बाद खबर आई कि मुख्तार को जेल की बैरक नंबर 15 में रखा जा सकता है लेकिन बुधवार को ऐसा नहीं हुआ. 

Also Read: Delhi Night Curfew Guidelines: दिल्ली में रात 10 से सुबह 5 बजे तक लगा नाइट कर्फ्यू

बैरक नंबर 15 बना मुख्तार का नया ठिकाना

इसी साल 26 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार को यूपी भेजने का फैसला सुनाया था. इसके बाद यूपी पुलिस पंजाब पहुंची और आज मुख्तार को बांदा जेल लाया गया. मुख्तार को बैरक नंबर 15 में रखा गया है. मुख्तार के लिए जेल में खास सेल बनाई गई है. मुख्तार के खाने की जांच को लेकर भी खास निर्देश दिए गए हैं.

मुख्तार के एंबुलेंस की जांच

एडीजी जोन लखनऊ एसएन साबत ने मुख्तार के एंबुलेंस का बारिकी से निरीक्षण किया. एडीजी ने कहा कि एआरटीओ और पुलिस की टीम एंबुलेंस की जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि हमारी एक टीम अभी भी पंजाब में है और पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. एक टीम ने मऊ जाकर केस से जुड़े लोगों से की पूछताछ की है. एडीजी ने कहा कि इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर बाराबंकी लाया गया है. एडीजी ने दावा किया कि  बाराबंकी पुलिस ने लगभग ये पूरा केस सुलक्षा लिया है. जल्द इस मामले से जुड़े सारे तथ्य़ सामने आ जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *