Night Curfew In Delhi: जानिए क्‍या हैं दिल्‍ली में नाइट कर्फ्यू के मायने?

Night curfew in Delhi On New Year’s Eve: दिल्‍ली सरकार ने 31 दिसंबर की रात 11 बजे से लेकर 1 जनवरी की सुबह‍ 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। 1 जनवरी की रात 11 बजे से लेकर 2 जनवरी की सुबह 6 बजे तक भी नाइट कर्फ्यू रहेगा।

Night Curfew In Delhi [Hindi] news

Night Curfew In Delhi हाइलाइट्स

  • कोविड के नए स्‍ट्रेन को देखते हुए दिल्‍ली सरकार ने लिया बड़ा फैसला
  • पब्लिक प्‍लेसेज पर 5 से ज्‍यादा लोग नहीं, न्‍यू ईयर सेलिब्रेशन पर भी रोक
  • 31 दिसंबर की रात 11 बजे से 1 जनवरी की सुबह 6 बजे तक रहेगा कर्फ्यू
  • 1 जनवरी की रात 11 बजे से 2 जनवरी की सुबह 6 बजे तक भी पाबंदी

नई दिल्‍ली: देश की राजधानी में नए साल के जश्‍न पर पाबंदियां लगा दी गई हैं। नए नियम के अनुसार, पब्लिक प्‍लेसेज पर 5 से ज्‍यादा लोग एक साथ जमा नहीं हो सकेंगे। नए साल के जश्‍न पर कार्यक्रम भी नहीं हो सकेंगे। 31 दिसंबर 2020 की रात 11 बजे से लेकर 1 जनवरी 2021 की सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। इसके अलावा 1 जनवरी की रात 11 बजे से लेकर 2 जनवरी की सुबह 6 बजे तक भी यही पाबंदियां रहेंगी। दिल्‍ली के चीफ सेक्रेटरी विजय देव जो कि दिल्‍ली डिजास्‍टर मैनेजमेंट अथॉरिटी के चेयरपर्सन भी हैं, उन्‍होंने यह आदेश जारी किया है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने पहली Driverless Metro in Delhi को दिखाई हरी झंडी

दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने कहा कि नए साल को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगाया जा रहा है। यह रात 11 बजे से दो जनवरी की सुबह 6 बजे तक रहेगा। वहीं महाराष्ट्र में लॉकडाउन 31 जनवरी तक बढ़ा दिया गया है। दिल्ली में ही नहीं बल्कि कई राज्यों में प्रतिबंध लगाए गए हैं।

Night Curfew In Delhi: ऑर्डर में क्‍या कहा गया?

चीफ सेक्रेटरी के ऑर्डर के मुताबिक, “दिल्‍ली के हालात की विस्‍तृत समीक्षा की गई है और कोविड-19 वायरस के म्‍यूटेंट यूके स्‍ट्रेन के खतरे को देखते हुए और दिल्‍ली में कोविड के स्‍थानीय मामलों को ध्‍यान में रखते हुए, यह समझा जाता है कि भीड़भाड़, समारोह और नए साल पर सार्वजनिक उत्‍सव से वायरस फैलने का भारी खतरा है। इससे दिल्‍ली में कोविड-19 मामलों के ट्रांसमिशन की चेन रोकने के अबतक के प्रयासों पर पानी फिर सकता है।”

राजीव चौक मेट्रो स्टेशन में भी एंट्री बंद

दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DRMC) ने ट्वीट कर अहम अपडेट दिया है। कनॉट प्‍लेस में भीड़ इकट्ठा होने से बचने के लिए राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के एग्जिट गेट रात 9 बजे से बंद कर दिए जाएंगे। यानी रात 9 बजे के बाद कोई भी राजीव चौक स्टेशन से बाहर नहीं निकल सकेगा। हालांकि स्टेशन में एंट्री आखिरी मेट्रो ट्रेन छूटने तक जारी रहेगी।

क्‍या हैं दिल्‍ली में नाइट कर्फ्यू के मायने?

नाइट कर्फ्यू के दौरान किसी भी पब्लिक प्‍लेस पर 5 से ज्‍यादा लोग नहीं जुट सकेंगे। हालांकि पब्लिक प्‍लेसेज में वे जगहें शामिल नहीं होंगी जिनके पास लाइसेंस है। चीफ सेक्रेटरी ने साफ किया कि कर्फ्यू के दौरान लोगों और माल की इंटरस्‍टेट और इंट्रास्‍टेट आवाजाही पर कोई रोक नहीं होगी। इसका मतलब कि आप बाहर निकल सकेंगे लेकिन 5 से ज्‍यादा लोग एक साथ नहीं। दिल्‍ली के अलावा, पंजाब, महाराष्‍ट्र, कर्नाटक और राजस्‍थान ने भी नाइट कर्फ्यू लगाया है।

नए साल पर पुलिस का सख्‍त पहरा

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के जॉइंट कमिश्नर मनीष कुमार अग्रवाल के मुताबिक, 31 दिसंबर की रात 8 बजे से कनॉट प्लेस एरिया में मूवमेंट पर पाबंदी लग जाएगी। केवल उन्हीं लोगों को गाड़ी लेकर जाने की इजाजत मिलेगी, जिनके पास वहां के किसी रेस्टोरेंट या बार में पहले से कराई गई बुकिंग का नंबर और रेस्टोरेंट या बार की तरफ से जारी किया गया विशेष पार्किंग स्टीकर होगा। सीपी के अलावा इंडिया गेट, खान मार्केट समेत नई दिल्ली की अन्य प्रमुख जगहों पर भी सुरक्षा और ट्रैफिक मैनेजमेंट के लिए पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। पूरी दिल्ली में 100 से ज्यादा टीमें और 1500 से ज्यादा ट्रैफिक पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *