पीएम मोदी ने पहली Driverless Metro in Delhi को दिखाई हरी झंडी

Driverless Metro in Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन पर ड्राइवर के बिना चलने वाली मेट्रो ट्रेन का उद्घाटन किया. मंगलवार से इस मेट्रो की सर्विस शुरू हो जाएगी.

Driverless Metro in Delhi hindi news

India’s First Driverless Train in Delhi

देश में पहली ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन का उद्घाटन हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली मेट्रो की ‘मेजेंटा लाइन’ पर भारत की पहली ड्राइवर लेस मेट्रो का उद्घाटन कर दिया है. PM ने इस मौके पर कहा कि ‘अभी मुझे बिना ड्राइवर के चलनी वाले मेट्रो रेल का उद्घाटन करने का अवसर मिला है. आज इस उपलब्धि के साथ ही हमारा देश दुनिया के उन चुनिंदा देशों में शामिल हो गया है जहां इस तरह की सुविधा है.’  उद्घाटन के अगले दिन यानी मंगलवार से इस रूट पर यह मेट्रो सर्विस शुरू हो जाएगी.

बता दें कि दिल्ली मेट्रो की 37 किलोमीटर लंबी मजेंटा लाइन पर जनकपुरी पश्चिम से बोटेनिकल गार्डन के बीच चालक रहित मेट्रो (Driverless Metro) सेवा शुरू होने के बाद 57 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन पर मजलिस पार्क और शिव विहार के बीच 2021 के मध्य तक चालक रहित मेट्रो सेवा की शुरुआत की जाएगी.

PM Modi ने Driverless Metro पर क्या कहा?

पीएम ने वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम में कहा कि:

‘2014 में सिर्फ 5 शहरों में मेट्रो रेल थी. आज 18 शहरों में मेट्रो रेल की सेवा है. वर्ष 2025 तक हम इसे 25 से ज्यादा शहरों तक विस्तार देने वाले हैं. ये सिर्फ आंकड़े नहीं हैं ये करोड़ों भारतीयों के जीवन में आ रही Ease of Living के प्रमाण हैं. ये सिर्फ ईंट पत्थर, कंक्रीट और लोहे से बने इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं हैं बल्कि देश के नागरिकों, देश के मिडिल क्लास की आकांक्षा पूरा होने के साक्ष्य है.’

पीएम ने इस दौरान मेक इन इंडिया को भी बढ़ावा दिया और बताया कि मेट्रो सर्विसेज़ के लिए यह इनीशिएटिव कितना  अहम है.

यह भी पढ़ें: Good Governance Day 2020: क्यों मनाया जाता है गुड गवर्नेंस डे, क्या है इसका इतिहास?

पीएम ने इस दौरान ट्रैवल और शॉपिंग सहित कई चीजों के लिए कॉमन मोबिलिटी कार्ड की शुरुआत भी की. उन्होंने कहा कि ‘आधुनिकीकरण के लिए एक ही तरह के मानक और सुविधाएं उपलब्ध कराना बहुत जरूरी है. राष्ट्रीय स्तर पर कॉमन मोबिलिटी कार्ड इसी दिशा में एक बड़ा कदम है. आप जहां कहीं से भी यात्रा करें, आप जिस भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट से यात्रा करें, ये एक कार्ड आपको इंटीग्रेटेड एक्सेस देगा.’

दिल्ली में कहाँ से कहाँ तक चलेगी Driverless Metro

दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन (जनकपुरी पश्चिम-बॉटनिकल गार्डेन) पर ड्राइवरलेस ट्रेन (Driverless Metro in Delhi) सेवा शुरू होने के बाद पिंक लाइन (मजलिस पार्क-शिव विहार) पर 2021 के मध्य में चालक रहित ट्रेन सेवा शुरू होने की उम्मीद है. मजेंटा लाइन पर जनकपुरी-बॉटेनिकल गॉर्डन कॉरिडोर पर 37 किलोमीटर के दायरे में इस सेवा की शुरुआत के साथ दिल्ली-एनसीआर के यात्री अत्याधुनिक सेवाओं का अपनी सहूलियत के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे.

वहीं एनसीएमसी को एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर पूरी तरह से संचालित किया जाएगा. इसके साथ ही, देश के किसी भी हिस्से से जारी रूपे-डेबिट कार्ड रखने वाला कोई भी व्यक्ति इसका उपयोग कर मार्ग पर यात्रा कर सकेगा. पीएमओ ने कहा कि यह सुविधा 2022 तक दिल्ली मेट्रो के पूरे नेटवर्क पर उपलब्ध हो जाएगी.

Credit: NDTV India

तकनीक की दिशा में दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के इस कदम से डीएमआरसी का नाम दुनिया के अग्रणी मेट्रो सेवा में शामिल हो जाएगा. जून 202 तक पिंक लाइन (मजलिस पार्क-शिव विहार) पर 57 किलोमीटर के दायरे में भी चालक रहित मेट्रो की शुरुआत की संभावना जताई है. अगले साल तक मेट्रो से यात्रा करने वाले लोगों को 94 किलोमीटर के दायरे में चालक रहित मेट्रो में सफर का मौका मिलेगा. यह पूरी दुनिया में ड्राइवरलेस मेट्रो नेटवर्क का करीब नौ फीसदी होगा. यह सेवा पूर्ण तौर पर स्वचालित होगी.

मेट्रो की सभी लाइनों पर 2022 तक यात्रियों को कॉमन मोबिलिटी कार्ड से सफर का मौका मिल सकेगा. डीएमआरसी की ओर से वर्तमान में 390 किलोमीटर के दायरे में 11 कॉरिडोर (नोएडा-ग्रेटर नोएडा) के 285 स्टेशनों के बीच यात्रियों को मेट्रो सुविधा मुहैया की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *