UGC Guidelines For Examination 2021 [Hindi]: अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स को छोड़ सभी छात्र बिना एग्जाम के होंगे प्रमोट पास

UGC Guidelines For Examination 2021: कोरोना संक्रमण से मचे हाहाकार के बीच विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने फिलहाल परीक्षाओं से जुड़ा फैसला विश्वविद्यालयों पर छोड़ दिया है। वे स्थानीय परिस्थितियों को देखते हुए परीक्षाएं कराने या फिर छात्रों को सीधे प्रमोट करने का फैसला ले सकेंगे। हालांकि अब तक जो स्थिति है, उसमें ज्यादातर विश्वविद्यालयों ने अंतिम वर्ष को छोड़कर बाकी सभी छात्रों को बगैर परीक्षा के ही अगली कक्षाओं में प्रमोट करने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए विश्वविद्यालयों ने यूजीसी की ओर से पिछले साल परीक्षाओं को लेकर तय की गई गाइडलाइन को आधार बनाया है।

UGC Guidelines For Examination 2021 hindi news

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक जो स्थिति है, उसमें इलाहाबाद यूनिवर्सिटी समेत ज्यादातर विश्वविद्यालयों ने अंतिम वर्ष को छोड़कर बाकी सभी छात्रों को बगैर परीक्षा के ही अगली कक्षाओं में प्रमोट करने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए विश्वविद्यालयों ने UGC की ओर से पिछले साल परीक्षाओं को लेकर तय की गई गाइडलाइन को आधार बनाया है।

UGC Guidelines For Examination 2021 पर यूजीसी का बयान

यूजीसी का कहना है कि कोरोना महामारी का प्रभाव देश के अलग-अलग हिस्सों में कम और ज्यादा है। ऐसे में परीक्षाओं को लेकर इस बार कोई स्टैंडर्ड गाइडलाइन अभी नहीं बनाई गई है। UGC का कहना है कि विश्वविद्यालय स्वायत्त शासी होते हैं, उन्हें परीक्षाओं और शैक्षणिक सत्र आदि को लेकर अपने स्तर पर कोई भी फैसला लेने का अधिकार है। संक्रमण का प्रभाव देश के अलग-अलग हिस्सों में कम और ज्यादा है।

Also Read: ICSE Class 10 Exams Cancelled: कोरोना महामारी के कारण ICSE ने कैंसिल की 10वीं बोर्ड की परीक्षा

ऐसे में एग्जाम को लेकर इस साल कोई मानक गाइडलाइन नहीं बनाई गई है। देश के विश्वविद्यालयों ने ग्रेजुएट के पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों को आंतरिक आकलन या फिर पिछले साल के प्रदर्शन के आधार पर अंक प्रदान करके प्रमोट करने की तैयारी शुरू कर दी है। अंतिम वर्ष की परीक्षाएं जुलाई-अगस्त में कराने पर भी काम किया जा रहा है। हालांकि, अंतिम साल की परीक्षाओं को लेकर कोई भी फैसला जून के पहले सप्ताह में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के बाद लिया जाएगा।

मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखेगा ‘सीबीएसइ दोस्त फार लाइफ’ एप 

सीबीएसइ ने विद्यार्थियों के मानसिक तनाव को देखते हुए ‘सीबीएसई दोस्त फार लाइफ’ एप लांच किया है। इस एप के माध्यम से छात्रों और अभिभावकों को मनोवैज्ञानिक परामर्श दिए जाएंगे। यह एप विद्यार्थियों के मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखेगा और उन्हें 12वीं के बाद करियर विकल्प से संबंधित सलाह भी देगा।

Also Read: National Technology Day 2021: Sant Rampal Ji Empowers All Necessities 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *